Sun. Aug 14th, 2022

मुकेश धीरूभाई अंबानी (Mukesh Dhirubhai Ambani ) एक भारतीय व्यवसायी हैं वो इंडिया के ही नहीं बल्कि विश्व के भी सबसे शक्तिशाली व्यापारियों में से एक हैं. ये इस वक्त रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के अध्यक्ष, प्रबंध निदेशक और कंपनी के सबसे बड़े शेयरधारक हैं और रिलायंस इंडस्ट्रीज कंपनी विश्व की सबसे फेमस कंपनियों में से एक है. मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani ) के पास कितनी कुल कितनी संपत्ति है, यह अपडेट तो आपको देखने को मिलती ही रहती है , इस समय पर उनकी संपत्ति चार अरब डॉलर बढ़कर 92.7 अरब डॉलर हो गई है। मुकेश अंबानी 14वें साल तक, 2021 में रिलायंस एंटरप्राइजेज के सबसे रईस शख्स बने रहे। साल 2008 से वो इस मुकाम पर हैं।

पूरा नाम : मुकेश धीरुभाई अंबानी
जन्म : 19 अप्रैल 1957 (आयु 64)
माता-पिता – धीरुभाई अंबानी/कोकिलाबेन अंबानी
जन्म स्थान : यमन देश ,मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
राष्ट्रीयता : भारतीय
राशि : मेष
धर्म : हिंदू
शिक्षा : हिल ग्रेंज हाई स्कूल, पेडर रोड, मुंबई , रासायनिक प्रौद्योगिकी संस्थान वन विद्यालय (वलथमस्टोव) स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय
पत्नी : नीता अंबानी
बच्चे : आकाश अंबानी, अनंत अंबानी, ईशा अंबानी
व्यवसाय :भारतीय व्यवसायी और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के सीईओ और अध्यक्ष
घर का पता :एंटीलिया ,दक्षिण मुंबई
भाषा का ज्ञान : हिंदी, अंग्रेजी
खाना : साउथ इंडियन खाना, गुजराती खाना और मूंगफली
शौक : फिल्में देखना, पुराने हिंदी गाने सुनना , तैराकी
अचीवमेंट : एशिया के सबसे अमीर व्यापारी
कुल संपत्ति : 92.6 अरब डॉलर
अधिकारिक वेबसाइट : https://www.ril.com/ourcompany/leadership/mukesh-ambani-chairman-and-managing-director.aspx

प्रारंभिक जीवन

Mukesh Ambani का जन्म 19 अप्रैल, 1957 में यमन में स्थित अदेन शहर में हुआ था। उनके पिता जी का नाम धीरुभाई अंबानी और माता जी नाम कोकिलाबेन अंबानी था। मुकेश अम्बानी के एक छोटे भाई भी है जिसका नाम अनिल अंबानी हैं और उनकी दो बहने भी हैं – दीप्ती सल्गओंकर और नीना कोठारी।। मुकेश अम्बानी के पिता स्वर्गीय धीरुभाई अंबानी अंबानी अदेन में ही काम करते थे।

1970 के दशक तक मुकेश अम्बानी का परिवार मुंबई के भुलेश्वर में दो कमरों के मकान में रहता था पर कुछ समय बाद धीरुभाई अंबानी ने मुंबई के कोलाबा क्षेत्र में एक 14 मंजिल ईमारत (सी विंड) खरीद लिया जहाँ धीरुभाई अंबानी अपनी अम्बानी परिवार के अन्य सदस्य कई सालों तक रहे।

शिक्षा

मुकेश अंबानी शिक्षा की शुरुरात मुंबई के पेद्दर रोड स्थित ‘हिल ग्रान्ज हाई स्कूल में हुई और उसके भाई अनिल अम्बानी भी इसी स्कूल मे पढ़ते थे। मुकेश अंबानी के करीबी मित्र आनंद जैन ने भी के इसी स्कूल से पढ़ाई की , जो बाद में उनके करीबी सहयोगी बन गया।

मुकेश अम्बानी ने ‘इंस्टिट्यूट ऑफ़ केमिकल टेक्नोलॉजी, माटुंगा’ से केमिकल इंजीनियरिंग ऑफ़ बैचलर ऑफ़ इंजीनियरिंग की डिग्री ग्रहण की। उसके बाद मुकेश अम्बानी ने स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में एमबीए के लिए दाखिला लिया लेकिन फिर उन्होंने अपने पिता जी के कारोबार मे मदद करने के लिए उन्होंने बीच मै ही अपनी डिग्री छोड़ दी।

कार्य – करियर की शुरूबात

जब मुकेश अंबानी एमबीए की पढ़ाई कर रहे थे, उसी वक्त इनके पिता को भारत सरकार से पॉलिएस्टर फिलामेंट यार्न के विनिर्माण से जुड़ा हुआ लाइसेंस मिला था. लाइसेंस मिलने के बाद धीरूभाई अंबानी ने मुकेश अंबानी को भारत बुला लिया और फिर दोनों लोग पॉलिएस्टर फिलामेंट यार्न का प्लांट खोलने के कार्य में लग गए थे। सफलता पूर्वक उन्होंने अपना प्लांट खोला और फिर मुकेश अंबानी ने अपनी पढ़ाई पूरी करने की जगह अपने पिता जी के बिज़नेस को बढ़ाने का निर्णय ले लिया था।

इस काम के बाद वो अपने पिता के साथ मिलकर रिलायंस कंपनी का कार्य संभालने में लग गए थे और फिर धीरे धीरे उनकी कंपनी एनर्जी, टेक्सटाइल्स , नेचुरल रिसोर्सेज, पेट्रोकेमिकल्स और टेलीकम्युनिकशन्स के क्षेत्र में भी कार्य करने लगी थी।

वर्ष 2002 में धीरुभाई अंबानी का निधन हो गया उनके निधन के बाद उनकी कंपनी ‘रिलाइंस’ को दो ग्रुप में बांट दिया गया था, जिसमें से एक ग्रुप मुकेश अंबानी को दिया गया और दूसरा ग्रुप अनिल अंबानी को दिया गया। मुकेश अंबानी ने अपने ग्रुप का नाम रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड रख दिया और अनिल अंबानी ने अपने ग्रुप का नाम रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी रख दिया।

मुकेश ने जामनगर (गुजरात) में बुनियादी स्तर की विश्व की सबसे बड़ी पेट्रोलियम रिफायनरी की स्थापना करने में बहुत बढ़ी भूमिका निभाई। वर्तमान मे (सन 2010 ) इस रिफायनरी की क्षमता 660,000 बैरल प्रति दिन थी यानी 3 करोड़ 30 लाख टन प्रति वर्ष। लगभग 100000 करोड़ रुपयों के निवेश से बनी इस रिफायनरी में पेट्रोकेमिकल, पावर जेनरेशन, पोर्ट तथा सम्बंधित आधारभूत ढांचा है।

मुकेश अम्बानी ने रिलायंस कम्युनिकेशंस लिमिटेड को स्थापित किया जो भारत की सबसे बढ़ी दूरसंचार कंपनियों में से एक है। उसके बाद उन्होंने 5 सितंबर 2016 रिलायंस की जियो को सार्वजनिक रूप से लॉन्च किया जिसने देश मे दूरसंचार सेवाओं को देने की वजह से अच्छी गजह बना ली।

मुकेश अंबानी ने मुंबई के केमिकल टेक्नोलॉजी संस्थान के गवर्नर्स बोर्ड पर कार्य किया है। पहले वहा वो भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के उपाध्यक्ष रहे और वर्तमान में रिलायंस पेट्रोलियम मे बोर्ड के अध्यक्ष हैं।

निजी जीवन

मुकेश अंबानी भारत के सबसे प्रखर उद्योगपति स्वर्गीय धीरूभाई अंबानी और कोकिला बेन अम्बानी के पुत्र हैं। उनका परिवार गुजरात के (मोध बनिया) समुदाय से ताल्लुक रखता है। धीरूभाई अंबानी एक भारतीय उद्यमी एवं रिलायंस इंडस्ट्रीज के संस्थापक थे। इनके भाई अनिल अंबानी रिलायंस अनिल “धीरूभाई अम्बानी” समूह के प्रमुख हैं। यह समूह दूरसंचार, बिजली, प्राकृतिक संसाधनों, बुनियादी सुविधाओं और वित्तीय सेवाओं के क्षेत्र में काम करते है। धीरुभाई अम्बानी के मृत्यु के बाद दोनों भाईयों में कुछ कहा-सुनी हो गयी , जिसके बाद रिलायंस समूह दो भागों में बंट गया।

मुकेश अम्बानी की पत्नी नीता अंबानी रिलायंस इंडस्ट्रीज के सामाजिक एवं धर्मार्थ कार्यो को देखती हैं। उनके दो बेटे है – आकाश अंबानी और अनंत अंबानी और उनकी एक बेटी है – ईशा अंबानी। वो अभी एंटीलिया (भवन) में रह रहे हैं, जो 27 मंजिला की ईमारत हैं।

मुकेश अंबानी के घर की कीमत एक अरब डॉलर है ,इसीलिये उसे दुनिया का सबसे महंगा घर कहा जाता है। एंटीलिया दक्षिण मुंबई, भारत में एक निजी घर है और उनके इस निवास की देखरेख के लिए 600 कर्मचारी 24 घंटे लगे रहते है।

मुकेश अंबानी के पास कई लक्जरी कारें में Maybach 62, Mercedes S class, Bentley Flying Spur,बी एम डब्ल्यू 760li , Rolls Royce Phantom और ब्लैक Mercedes SL500 शामिल हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मुकेश अंबानी Maybach कार को सबसे पहले भारत में लेकर आए थे, जिसकी कीमत 5 करोड़ रुपए से भी अधिक थी। हालांकि, अब ये मॉडल आना बंद हो चुका है।

इन्होंने वर्ष 2008 में आईपीएल की मुंबई इंडियंस टीम की फ्रेंचाइजी को खरीदा था और ये टीम आईपीएल की सबसे फेमस टीमों में से एक हैं. इस टीम की कीमत इस समय करीबन 111.9 मिलियन डॉलर्स के आसपास की है।

उपलब्धियां

  • 2007 में मुकेश अंबानी को एन डी टीवी के द्वारा “बिज़नसमैंन ऑफ़ द ईयर” चुने गए
  • यूनाईटेड स्टेटस-इंडिया बिज़नस कौंसिल ने 2007 में मुकेश अंबानी को वाशिंगटन में “ग्लोबल विज़न” लीडरशिप अवार्ड दिया गया।
  • मुकेश अंबानी को 2007 में “चित्रलेखा पर्सन ऑफ़ द ईयर” के पुरस्कार से सम्मानित किया गया
  • मई 2004 में एशिया सोसाइटी, मुकेश अंबानी को वॉशिंगटन डी सी द्वारा “एशिया सोसाइटी लीडरशिप” अवार्ड प्रदान किया गया
  • टोटल टेलिकॉम ने अक्टूबर 2004 , मुकेश अम्बानी को दूरसंचार के क्षेत्र में सबसे प्रभावशाली व्यक्ति के तौर पर वर्ल्ड कम्युनिकेशन अवार्ड दिया गया।
  • वौइस् एंड डाटा पत्रिका ने सितम्बर 2004 में मुकेश अम्बानी को ‘टेलिकॉम मैंन ऑफ़ द ईयर’ चुना गया
  • फोर्च्यून पत्रिका के अगस्त 2004 अंक में सबसे शक्तिशाली कारोबारियों की एशिया पॉवर 25 सूचि में मुकेश अम्बानी को 13वां स्थान दिया गया।
  • इंडिया टुडे के मार्च 2004 अंक में द पॉवर लिस्ट मई 2004 में मुकेश अम्बानी को लगातार दूसरे साल मैं भी पहला स्थान हासिल हुआ
  • मई 2004, संयुक्त राज्य अमरीका मे वॉशिंगटन डी सी द्वारा एशिया सोसाइटी लीडरशिप अवार्ड प्रदान किया गया।
  • जून 2007 मे मुकेश अम्बानी को पहला Trillionaire चुना गए।

By Poonam

Read Shayari in Hindi, Basant Panchami Shayari, Happy Krishna Janmashtami Shayari, Happy New Year Shayari, Best Motivational Shayari of 2021, Happy Birthday Wishes for Whatsapp, Navratri Wishes and more Shayari read , Bank Naukri, Gadgets News on Hindi Vichar Dhara .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *